Friday, May 24, 2024
Tags #प्रीतिराघवचौहान

Tag: #प्रीतिराघवचौहान

तीज

तीज pritiraghavchauhan.com सज सँवर कर तीज पर   मेंहदी सजी हथेलियाँ  भर-भर कलाई चूड़ियाँ  अंजन भरी आँखे लिये  होठों पे रचा सुर्खियाँ लाल पीले घाघरे सिर पर हरी चुनरियाँ रुनझुन करती पायलें और साड़ियों में...

किताबें

किताबें किताबों में किस्से हैं कलमा है चौपाई भी तेरी मेरी इसकी उसकी सी लगती कविताई भी किताबों में कल है रोमांचक पल हैं काले हर्फ़ों में लिखें...

Protected: स्वतंत्रता

स्वतंत्रता दिवस पर हार्दिक शुभकामनाएं... इक स्वतंत्र सोच ले जी सकें...

सच

सच कहना कटु है सुनना गरल है मुँह छिपाना सच से बंधु क्या सरल है  सच चीखकर कहेगा सब चाहे हो गूंगा  मोती मानुष चून बिके जब कैसे बचेगा मूंगा सच बचा...

सक्षम हरियाणा

जिस रोज हम सक्षम होंगे परचम तभी फहराएंगे हिंद ए आजादी के तराने तभी गाएंगे नींद में थे तभी शायद यूँ पीछे रहे अब शुरु हुए हैं न उनके...

वेबसाइट

          सुबह-सुबह सुबह एक अच्छे मूड में उठने के बाद सोचा कुछ लिखा जाये ।मन में आज अनेक विचारों के...

माँ

तुम ही कुमारी तुम ही किशोरी तुम ही युवती तुम ही हो यति तुम ही दुर्गा तुम ही शक्ति तुम ही ब्रह्म हो तुम...
- Advertisement -

MOST POPULAR

HOT NEWS